Class 10th History Chapter 2 vvi Objective and Subjective Question | Socialism and Communism objective question bank समाजवाद एवं साम्यवाद वर्ष 2011 से 2023 तक के सभी प्रश्न

इसे जरूर पढ़े

WhatsApp Group में जुड़े

Telegram Group में जुड़े

Class 10th History Chapter 2 vvi Objective and Subjective Question | Socialism and Communism objective question bank समाजवाद एवं साम्यवाद वर्ष 2011 से 2023 तक के सभी प्रश्न history 10th class chapter 2,class 10th history chapter 2,class 10 history chapter 2 question answer,class 10 history chapter 2,class 10th hsitory chapter 2 question answer,history class 10 chapter 2 question answer,history class 10 chapter 2 bihar baord,history class 10 chapter 2,class 10 ka history chapter 2,class 10 history chapter 2 bihar baord,class 10 social science history chapter 2,class 10th history chapter 2 objective question,itihas class 10 chapter 2, socialism,socialism and communism,socialism vs communism,communism,socialism and communism difference,communism vs socialism,what is communism,communism and socialism,samajwad and samyavad ka objective question,what is socialism,socialism and communism class 10,socialist,socialism explained,communism and socialism difference,mcq socialism in europe and russian revolution,difference between socialism and communism,socialism and communism explained with cows

2. समाजवाद एवं साम्यवाद
(Socialism and Communism )
वस्तुनिष्ठ प्रश्न

1. ‘युद्ध और शांति (War and Peace) पुस्तक किसने लिखी ? [2021AI]
(A) प्लेखानोव

(B) टॉल्सटाय

(C) कार्ल मार्क्स

(D) दुर्गनेव

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर -(B) टॉल्सटाय[/accordion] [/accordions]

2. कार्ल मार्क्स की पुस्तक का नाम है। [2021AI]

(A) युद्ध और शांति

(B) दास कैपिटल

(C) कम्यूनिस्ट मैनिफेस्टो

(D) (B) एवं (C) दोनों

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर – (B) दास कैपिटल[/accordion] [/accordions]

3. रूस की बोल्शेविक क्रांति का नेतृत्व किसने किया? [2021AI, 2022AII]

(A) केरेन्सकी

(B) ट्रॉटस्की

(C) लेनिन

(D) स्टालिन

PDF के लिए यहाँ दबाएँ 👈

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर -(C) लेनिन[/accordion] [/accordions]

4. समाजवादियों की बाइबिल किसे कहा जाता है?[2021AI]

(A) सोशल कांट्रैक्ट

(B) दास कैपिटल

(C) अप्रैल थीसिस

(D) इनमें से कोई नहीं

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर – (B) दास कैपिटल[/accordion] [/accordions]

5. साम्यवादी शासन का पहला प्रयोग कहाँहुआ? [2020AI,2022AII]

(A) रूस

(B) जापान

(C) चीन

(D) क्यूबा

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर – (A) रूस[/accordion] [/accordions]

6. कार्ल मार्क्स का जन्म कहाँ हुआ था ? [2011A, 2020AII]

(A) इंगलैंड

(B) जर्मनी

(C) इटली

(D) रूस

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर – (B) जर्मनी[/accordion] [/accordions]

7. वोल्शेविक क्रान्ति कब हुई ? (2012A, 2018AI, 2020AI, 2020AII]

(A) जनवरी, 1905

(B) फरवरी, 1917

(C) नवम्बर 1917

(D) मई, 1919

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर – (C) नवम्बर 1917[/accordion] [/accordions]

8 . ‘दास कैपिटल’ का प्रकाशन किस वर्ष हुआ था ? [2020AII]

(A) 1848 में

(B) 1864 में

(C) 1867 में

(D) 1883

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर -(C) 1867 में[/accordion] [/accordions]

9 . ‘वार एंड पीस’ किसकी रचना है? [2014AII, 2019AI]

(A) कार्ल मार्क्स

(B) टालस्टाय

(C) दोस्तोवस्की

(D) ऍजल्स

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर – (B) टालस्टाय[/accordion] [/accordions]

10. मार्क्स ने 1867 ई. में किस पुस्तक की रचना की जिसे ‘साम्यवादियों का बाइबिल’ कहा जाता है? [2019C]

(A) साम्यवादी घोषणा पत्र

(B) दास कैपिटल

(C) द जर्मन आइडियोलॉजि

(D) वर्ग संघर्ष

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर – (B) दास कैपिटल[/accordion] [/accordions]

11. ब्रेस्ट लिटोवस्क की संधि किन देशों के बीच हुई थी? [2018AII]

(A) रूस और इटली

(B) रूस और फ्रांस

(C) रूस और इंगलैंड

(D) रूस और जर्मनी

PDF के लिए यहाँ दबाएँ 👈

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर – (D) रूस और जर्मनी[/accordion] [/accordions]

12. निम्नलिखित में से किसे साम्यवाद के संस्थापक के रूप में माना जाता है ? [2018C]

(A) लेनिन

(B) स्टालिन

(C) जॉन

(D) कार्ल मार्क्स

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर – (D) कार्ल मार्क्स[/accordion] [/accordions]

13. साम्यवादी घोषणा पत्र के लेखक थे- [2018C]

(A) लियोटॉल्स्टॉय

(B) ट्रॉटस्की

(C) लेनिन

(D) कार्ल मार्क्स और एंगल्स

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर – (D) कार्ल मार्क्स और एंगल्स[/accordion] [/accordions]

14. रूस में कृषक दास प्रथा का अन्त कब हुआ? [2017AI]

(A) 1861

(B) 1862

(C) 1860

(D) 1870

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर -(A) 1861[/accordion] [/accordions]

15. रूस में जार का क्या अर्थ होता था? [2013S]

(A) पीने का बर्तन

(B) पानी रखने का मिट्टी का पात्र

(C) रूस का सामन्त

(D) रूस का सम्राट

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर – (D) रूस का सम्राट[/accordion] [/accordions]

16. राबर्ट ओवन कहाँ का निवासी था? [2022AI]

(A) फ्रांस

(B) जर्मनी

(C) ब्रिटेन

(D) ऑस्ट्रिया

[accordions title=””] [accordion title=”उत्तर देखें ” load=”hide”]उत्तर – (A) फ्रैंकफर्ट की संधि
[/accordion] [/accordions]

PDF के लिए यहाँ दबाएँ 👈

लघु उत्तरीय प्रश्न

1. खूनी रविवार क्या है? [2020AII, 2022AII]

उत्तर -1. रूस में जार के शासन से लोग तंग आ गए थे। उसका अत्याचार अत्यन्त बढ़ गया था। इसलिए 22 जनवरी ( पुराने कैलेण्डर में 9 जनवरी 1905 ) को मजदूर अपने परिवारों के साथ एक शांतिपूर्ण जुलूस में जार से मिलने और उसे एक प्रार्थनापत्र देने के लिए पीटर्सवर्ग स्थित महल की और जा रहे थे। उसी समय सैनिकों ने उनपर गोलियाँ बरसा दीं। फलतः एक हजार से अधिक मजदूर मारे गए तथा कई हजार घायल हुए। चूँकि यह घटना रविवार के दिन हुई थी, इसलिए इस दिन को ‘खूनी रविवार’ कहा जाता है।

2. रूसी क्रांति के दो कारणों का वर्णन करें। [2013A, 2017AII, 2018C, 2019AI, 2021AI]

उत्तर – 2. रूसी क्रांति के दो महत्त्वपूर्ण कारण थे— (i) निरंकुश शासन – क्रान्ति का एक महत्त्वपूर्ण कारण जारशाही की निरंकुशता था। रूस का जार हमेशा विरोधियों को कठोर से कठोर दंड दिया करता था। लोगों को किसी प्रकार की स्वतंत्रता नहीं थी। जार की दमनकारी व्यवस्था के कारण निरंकुश शासन असहनीय हो गया था। रासपुटीन नामक एक भ्रष्ट पादरी शासन के कार्यों में हस्तक्षेप करता था। इस अत्याचार से प्रजा का विरोध और असंतोष बढ़ता जा रहा था।
(ii) कृषक एवं मजदूरों की दयनीय स्थिति रूसी समाज के बहुसंख्यक किसान वर्ग की स्थिति अत्यंत दयनीय थी। मजदूर तथा श्रमिक भी शोषण के शिकार थे। अतः किसान मजदूर जारशाही के विरोधी बन गए।

3. पूँजीवाद क्या है? [2019AI]

उत्तर – 3. पूँजीवाद एक ऐसी व्यवस्था है जिसमें उत्पादन के सभी साधनों, कारखानों तथा विपणन में पूँजीपतियों का एकाधिकार होता है। ऐसी व्यवस्था में बड़े
पैमाने पर उत्पादन पूँजीपति अपने निहित स्वार्थ के लिए करते हैं।

4. अक्टूबर क्रांति क्या है? [2018C, 201911]

उत्तर – 4. मार्च की क्रांति के बाद 1917 में ही दूसरी बार क्रांति हुई। यह क्रांति 7 नवम्बर, 1917 को हुई, पर पुराने रूसी कैलेण्डर के अनुसार वह दिन 25 अक्टूबर, 1917 था। अत: यह क्रांति ‘बोल्शेविक क्रांति’ या अक्टूबर क्रांति कहलाती है। यह क्रांति मेन्शेविकों और बोल्शेविकों के बीच सत्ता के संघर्ष के लिए हुई थी। सत्ता मेन्शेविक दल के नेता करेन्सकी के हाथों में आ गई थी। करेन्सकी सरकार के विरुद्ध अलोकप्रियता के कारण असंतोष बढ़ता गया। उसी समय बोल्शेविक दल के नेता लेनिन ने करेन्सको सरकार का तख्ता पलट दिया। शासन की बागडोर लेनिन के हाथों में आ गई और रूस का नवनिर्माण आरंभ हुआ।

5. सर्वहारा वर्ग से आप क्या समझते हैं? [2012S,2018C]

उत्तर – 5. सर्वहारा वर्ग समाज का वैसा वर्ग है जिसमें किसान, मजदूर एवं आम लोग शामिल होते हैं। मार्क्स के अनुसार सर्वहारा वर्ग मजदूरों तथा श्रमिकों का वर्ग था जो सुविधाविहिन वर्ग था जिसे कोई अधिकार प्राप्त नहीं था। यह पूँजीपतियों के द्वारा शोषित तथा उपेक्षित था।

6. साम्यवाद एक नयी आर्थिक एवं सामाजिक व्यवस्था थी। कैसे? [2014AI, 2017AI]

उत्तर – 6. रूस में क्रांति के बाद नई सामाजिक-आर्थिक व्यवस्था को स्थापना हुई। सामाजिक असमानता समाप्त कर दी गयी। वर्गविहीन समाज का निर्माण कर रूसी समाज का परंपरागत स्वरूप बदल दिया गया। पूँजीपति और जमींदार
व्यक्तिगत संपत्ति समाप्त कर पूँजीपतियों का वर्चस्व समाप्त कर दिया गया। देश की सारी संपत्ति का राष्ट्रीयकरण कर दिया गया। इस प्रकार, एक वर्गविहीन औरशोषणमुक्त सामाजिक-आर्थिक व्यवस्था की स्थापना हुई। इस प्रकार हम कह सकते हैं की रूसी क्रांति के बाद साम्यवाद एक नई आर्थिक एवं सामाजिक व्यवस्था थी

7. कार्ल मार्क्स के विषय में आप क्या जानते हैं? [2012S]

उत्तर -7. कार्ल हेनरिख मार्क्स (जर्मन- Karl Heinrich Marx ; 5 मई 1818 – 14 मार्च 1883) जर्मन दार्शनिक, अर्थशास्त्री, इतिहासकार, राजनीतिक सिद्धांतकार, समाजशास्त्री, पत्रकार राजनीतिक अर्थव्यवस्था के आलोचक, समाजवादी क्रांतिकारी और वैज्ञानिक समाजवाद के प्रणेता थे।[1] [2]उनके सबसे प्रसिद्ध शीर्षक 1848 के पैम्फलेट “द कम्युनिस्ट मेनिफेस्टो” और चार-खंड “दास कपिटल” (1867-1883) हैं। मार्क्स के राजनीतिक और दार्शनिक विचारों का बाद के बौद्धिक, आर्थिक और राजनीतिक इतिहास पर अत्यधिक प्रभाव पड़ा। उनका नाम एक विशेषण, एक संज्ञा और सामाजिक सिद्धांत के स्कूल के रूप में इस्तेमाल किया गया है।

8. रूस की क्रान्ति ने पूरे विश्व को प्रभावित किया। किन्हीं दो उदाहरणों द्वारा स्पष्ट करें। [2011AI]

उत्तर -8. (i) इस क्रांति के पश्चात् अथवा सर्वहारा वर्ग की सत्ता रूस में स्थापित हो गई तथा इससे अन्य क्षेत्रों में भी आन्दोलन को प्रोत्साहन मिला ।
(ii) रूसी क्रांति के बाद विश्व विचारधारा के स्तर दो खेमों में विभाजित हो गया साम्यवादी विश्व एवं पूँजीवादी विश्व 1 इसके पश्चात् यूरोप भी दो भागों में विभाजित हो गया-पूर्वी यूरोप और पश्चिमी यूरोप।

9. क्रांति से पूर्व रूसी किसानों की स्थिति कैसी थी ? [2022AII]

उत्तर –9. क्रांति से पूर्व रूसी किसानों की स्थिति अत्यंत दयनीय थी। उनके खेत बहुत छोटे-छोटे थे जिन पर वे पारंपरिक ढंग से खेती करते थे। उनके पास पूंजी की कमी थी। वह करों के बोझ से दबे रहते थे।

दीर्घ उत्तरीय प्रश्न

1. रूसी क्रांति के प्रभाव की विवेचना करें। [2017A]

उत्तर:- 1917 की रूसी क्रान्ति के कुछ कारण तो दशकों पुराने थे, तात्कालिक कारणों ने व्याप्त असंतोष का विस्फोट कर दिया। ये कारण निम्नलिखित थे –

(i) जार की निरंकुशता एवं अयोग्य शासन –
यद्यपि 19वीं सदी के मध्य में राजतंत्र की शक्ति सीमित की जा चुकी थी। रूसी राजतंत्र अपना विशेषाधिकार छोड़ने को तैयार नहीं था। जार निकोलस-II राजा के दैवी अधिकरों में विश्वास रखता था। जार की अफसरशाही अस्थिर, जड़ तथा अकुशल थी। गलत सलाहकारों के कारण जार की स्वेच्छाचारिता बढ़ती गई और जनता की स्थिति बद से बदतर होती गई

(ii) कृषकों की दयनीय स्थिति –
रूस की बहुसंख्यक जनता कृषक थी जो अपने छोटे-छोटे खेत पर पुराने ढंग से खेती करती थी। दयनीय आर्थिक स्थिति में भी वे करों के बोझ से दबे हुए थे।

(iii) मजदूरों की दयनीय स्थिति –
मजदूरों को कम मजदूरी में अधिक काम करना होता था। उन्हें कोई राजनैतिक अधिकार नहीं थे। अपनी माँगों के समर्थन में वे हड़ताल भी नहीं कर सकते थे।

(iv) औद्योगीकरण की समस्या –
रूस में कुछ ही क्षेत्रों में उद्योग संकेन्द्रित था। राष्ट्रीय पुंजी के अभाव में विदेशी पूँजी पर निर्भरता बढ़ गई थी। विदेशी पूँजीपति आर्थिक शोषण करते थे

यहाँ से करें पूरी तैयारी 

बिहार बोर्ड की तैयारी करने के लिए आप सभी को हमारे इस वेबसाइट www.dlsofficial.com  पर सभी विषय का Chapter Wise PDFChapter Wise Subjective Question Answer , Chapter Wise Objective Question Answer , Model Set, Online Test बिल्कुल फ्री में मिल जाएगा टेस्ट देने से आप सभी का अभ्यास होगा इसके साथ साथ अगर आप सभी FREE VIDEO Lecture लेना चाहते हैं तो पूरी क्वालिटी कंटेंट के साथ Bihar Board NO.1 YouTube Channel DLS Education पर सभी विषय का अलग-अलग शिक्षकों द्वारा संपूर्ण तैयारी कराई जाती है | यहां से अपनी तैयारी मजबूत कर सकते हैंClass 10th Math Chapter 2 vvi Objective 

Board Name  Bihar School Examination Board 
Type Of Article DLS Education

क्वेश्चन बैंक 

Chapter Wise PDF Click Here
Chapter Wise Subjective

Question Answer

Click Here
Chapter Wise Objective

Question Answer

Click Here
Model Set Click Here
Online Test Click Here
Free Video Live Classes 
  1. Math Chapter Wise Live Video
  2. Science Chapter Wise Live Video
  3. English Chapter Wise Live Video
  4. Social Science Chapter Wise Live Video
  5. Hindi Chapter Wise Live Video
  6. Sanskrit Chapter Wise Live Video 
YouTube Channel  Click Here

Leave a Comment